Category Archives: वैदिक ज्योतिष

बुध का एकादश/ 11 बे भाव में फल और आपका प्रेम, विवाह, करियर, लाभ

Mercury in 11th House Career, Gains-Loss, Marriage, Friends, Finance

बुध का एकादश/ 11 भाव में फल और आपका प्रेम, विवाह, करियर, लाभ-हानि, दोस्ती और नेटवर्किंग/ संयोजन, वित्त – वैदिक ज्योतिष के अनुसार: – इस स्थिति के साथ बुध बहुत तेज़ दिमाग देता है और व्यक्ति बहुत कम उम्र से ही परिवार की बड़ी जिम्मेदारियों को अपने कंधों पर ले लेता है। जातक का दिमाग [Know More…]

द्वादश /१२ वें घर/ भाव में स्थित बुध का फल और आपका प्रेम, विवाह, हानि

Mercury In 12th House Love, Sex, Marriage, Career, Loss, Health, Jail

द्वादश /१२ वें घर/ भाव में स्थित बुध का फल प्रेम, विवाह, शयन सुख, सेक्स, हानि और व्यय, जेल, विदेश संबंध और विदेश निवासी बंदोबस्त: –  बारहवें भाव में बुध जातक को अंतर्मुखी बना देगा, विशेष रूप से जीवन के प्रारंभिक वर्षों में। जातक को अलगाव/एकांत में रहने और कल्पनाशील प्रेम-प्रसंग स्थिति के प्रति प्रेम [Know More…]

दशम /10 वें घर/ भाव में स्थित बुध का फल और आपका प्रेम, विवाह, करियर

Mercury in 10th house Love, Career, Rise, Promotion Demotion & More

दशम /10 वें घर/ भाव में बुध का फल और आपका प्रेम, विवाह, करियर, वित्त, प्रमोशन/ डिमोशन स्वास्थ्य, परिवार – जन्म कुंडली:- १०वें भाव में बुध कम उम्र में संघर्ष देगा लेकिन ३०साल की उम्र के बाद जब जातक के सपने और महत्वाकांक्षा साकार होने लगेगी तब उसे सफलता मिलेगी। जातक चालाकी करने वाला होगा [Know More…]

कुंडली में १२ राशियों के लिए व्यावसायिक और आर्थिक विकास के विकल्प

Career Options For Professional and Financial Growth for 12 Zodiac Signs

ज्योतिष कुंडली में १२ राशियों के लिए व्यावसायिक और आर्थिक/ वित्तीय विकास के लिए करियर विकल्प:-  मनुष्य के रूप में हम हमेशा अपने करियर के बारे में चिंतित रहते हैं। हम हमेशा जीवन में करियर स्थिरता की तलाश करने की कोशिश करते हैं। हम हमेशा अपने सपनों का करियर आसानी और आराम से चाहते हैं। [Know More…]

ज्योतिष कुंडली में दिवालियापन/ अर्थहीनता का योग और उनके उपाय

Bankruptcy In Vedic Astrology-Combinations In Horoscope With Remedy

वैदिक ज्योतिष जन्म कुंडली में दिवालियापन/ अर्थहीनता का योग और उनके उपाय: दिवालियापन एक बहुत ही सामान्य घटना है जो इस दुनिया में हर तीसरे या चौथे व्यक्ति के जीवन में होती है। दिवालियापन को दो भागों में परिभाषित किया जा सकता है। दिवालियापन का पहला प्रकार तब होता है जब आप कुछ दिनों या [Know More…]

ज्योतिष कुंडली में ९ ग्रहों से संबंधित करियर/ पेशा/ व्यवसाय क्या होगा?

Career According To Planets In Astrology - Horoscope Or Kundli

ज्योतिष कुंडली में ९ ग्रहों से संबंधित करियर/ पेशा/ व्यवसाय क्या होगा: ज्योतिष में विभिन्न करियर या व्यवसायों पर प्रत्येक ग्रह के महत्व के नीचे सूचीबद्ध कीवर्ड आपको किसी के करियर का निर्धारण करने के लिए कुंडली का न्याय करने में मदद करेंगे। आपको 10वें घर और उसके स्वामी और कुंडली या कुंडली के अन्य [Know More…]

वैदिक ज्योतिष में दाराकारक और आपके जीवनसाथी के रहस्य

Darakaraka In Vedic Astrology - Your Spouse's Secrets - Detail Analysis

वैदिक ज्योतिष में दाराकारक और आपके जीवनसाथी के रहस्य – जन्म कुंडली का विस्तृत विश्लेषण – नवमांश/डी9: ज्योतिष में दाराकारक क्या है : भाग्य और जीवनसाथी पढ़ने की विशेषता जैमिनी की ज्योतिष डिग्री-आधारित कारक प्रणाली में, प्रत्येक ग्रह (सूर्य से शनि तक) राहु और केतु जैसे छाया ग्रहों को छोड़कर आपके जीवन में लोगों का [Know More…]

ज्योतिष कुंडली में प्रेम विवाह और प्रेम विवाह रद्द योग का योग कैसे देखे

Love Marriage In Astrology - Horoscope Prediction - Marriage Cancel Yoga

ज्योतिष कुंडली में प्रेम विवाह और प्रेम विवाह रद्द योग का योग कैसे देखे: आधुनिक समय में लड़के और लड़कियां एक साथ पढ़ते और काम करते हैं, इसलिए उन्हें एक-दूसरे से खुलकर मिलने का मौका मिलता है। इस प्रकार की लगातार मुलाकातों से आपसी अंतरंगता पैदा होती है जो उन्हें यौन आकर्षण की ओर ले [Know More…]

कुंडली में तलाक/ विवाह भंग के योग को कैसे देखे वैदिक ज्योतिष के अनुसार

Divorce Or Separation In Astrology - Horoscope Prediction

कुंडली में तलाक/ विवाह भंग के योग को कैसे देखे वैदिक ज्योतिष के अनुसार – एक बिस्तृत ब्याख्यान: आजकल विवाहित जोड़ों के बीच तलाक या अलगाव बहुत सामान्य हो गया है। आजकल शादी करने से तलाक लेने में कम समय लगता है। अगर इसे सामाजिक पहलू से देखा जाए तो इसके पीछे कई कारण हैं। [Know More…]

कुंडली में विवाह में विलम्ब/ देरी का योग और उपाय – वैदिक ज्योतिष

Late-Marriage-Delay-In-Marriage-In-Horoscope-Remedies-Vedic-Astrology

कुंडली में विवाह में विलम्ब/ देरी का योग और उपाय – वैदिक ज्योतिष: विवाह जीवन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है। एक कहावत है कि पति-पत्नी एक दूसरे को पूरा करते हैं। अर्थात – हम इस संसार में अधूरे हैं, विवाह के माध्यम से हम एक सुखी और समृद्ध जीवन जीने के लिए पूर्ण [Know More…]

कुंडली में अविवाहित योग – वैदिक ज्योतिष के अनुसार

Unmarried/No Marriage/ Denial Of Marriage Yoga In Astrology

कुंडली में अविवाहित योग – वैदिक ज्योतिष के अनुसार: विवाह के कारक भाव 1, 2, 7, 11 और 12 हैं। याद रखें, इन घरों को लग्न, चंद्रमा और शुक्र से लिया जाना चाहिए – वैवाहिक जीवन का न्याय करने के लिए। कुछ ज्योतिषियों का मत है – सूर्य से भी हमें उन सभी घरों का [Know More…]

कुंडली में विवाह का समय जानने का आसान तरीका – वैदिक ज्योतिष

Timing Of Marriage In Vedic Astrology - Horoscope Prediction

कुंडली में विवाह का समय जानने का आसान तरीका – वैदिक ज्योतिष में विवाह का समय: वैदिक ज्योतिष के अनुसार विवाह का समय: शास्त्रों में वर्णित विवाह के सटीक समय को निर्धारित करने के लिए बहुत सारे विवाह योग या योग हैं। सटीक समय प्राप्त करने के लिए न्याय करने से पहले जन्म कुंडली को [Know More…]

We use cookies in this site to offer you a better browsing experience. By browsing this website, you agree to our use of cookies & privacy policies.