Category Archives: ज्योतिष में 9 ग्रह का प्रभाब

बुध का एकादश/ 11 बे भाव में फल और आपका प्रेम, विवाह, करियर, लाभ

Mercury in 11th House Career, Gains-Loss, Marriage, Friends, Finance

बुध का एकादश/ 11 भाव में फल और आपका प्रेम, विवाह, करियर, लाभ-हानि, दोस्ती और नेटवर्किंग/ संयोजन, वित्त – वैदिक ज्योतिष के अनुसार: – इस स्थिति के साथ बुध बहुत तेज़ दिमाग देता है और व्यक्ति बहुत कम उम्र से ही परिवार की बड़ी जिम्मेदारियों को अपने कंधों पर ले लेता है। जातक का दिमाग [Know More…]

द्वादश /१२ वें घर/ भाव में स्थित बुध का फल और आपका प्रेम, विवाह, हानि

Mercury In 12th House Love, Sex, Marriage, Career, Loss, Health, Jail

द्वादश /१२ वें घर/ भाव में स्थित बुध का फल प्रेम, विवाह, शयन सुख, सेक्स, हानि और व्यय, जेल, विदेश संबंध और विदेश निवासी बंदोबस्त: –  बारहवें भाव में बुध जातक को अंतर्मुखी बना देगा, विशेष रूप से जीवन के प्रारंभिक वर्षों में। जातक को अलगाव/एकांत में रहने और कल्पनाशील प्रेम-प्रसंग स्थिति के प्रति प्रेम [Know More…]

दशम /10 वें घर/ भाव में स्थित बुध का फल और आपका प्रेम, विवाह, करियर

Mercury in 10th house Love, Career, Rise, Promotion Demotion & More

दशम /10 वें घर/ भाव में बुध का फल और आपका प्रेम, विवाह, करियर, वित्त, प्रमोशन/ डिमोशन स्वास्थ्य, परिवार – जन्म कुंडली:- १०वें भाव में बुध कम उम्र में संघर्ष देगा लेकिन ३०साल की उम्र के बाद जब जातक के सपने और महत्वाकांक्षा साकार होने लगेगी तब उसे सफलता मिलेगी। जातक चालाकी करने वाला होगा [Know More…]

चन्द्रमा कुंडली में प्रथम/ १/ लग्न भाव में – प्रेम, करियर, विवाह पर प्रभाव

Moon In 1st House/ Ascendant Love, Career, Marriage

चन्द्रमा कुंडली में प्रथम/ १/ लग्न भाव में – प्रेम, करियर, विवाह, वित्त/ संपत्ति पर प्रभाव: सूर्य प्रथम भाव में व्यक्तित्व पर प्रभाव: चन्द्रमा पृथ्वी का प्राकृतिक उपग्रह है। वैदिक ज्योतिष में, चंद्रमा को धन, प्रसिद्धि और प्रेमी की देवी माना जाता है। यह चांदी और सफेद पीले रंग के साथ चांदी धातु या तत्व [Know More…]

कुंडली में प्रथम/ १/ लग्न भाव में सूर्य – प्रेम, करियर, विवाह पर प्रभाव

Sun In 1st House/Lagna/ Ascendant Love, Career, Marriage

कुंडली में प्रथम/ १/ लग्न भाव में सूर्य – प्रेम, करियर, विवाह, वित्त/ संपत्ति पर प्रभाव: सूर्य प्रथम भाव में व्यक्तित्व पर प्रभाव: सूर्य सत्ता, नेतृत्व कौशल, सरकार से सम्मान और पक्ष आदि का प्रतीक है। सूर्य आदेश, स्थिति का एक शाही ग्रह है, और सच्चाई। यह व्यक्ति को आम तौर पर जीवन में सफल [Know More…]

कुंडली में दूसरे/२ भाव में सूर्य का प्रेम, करियर, विवाह, वित्त/ संपत्ति पर प्रभाव

Sun In 2nd House effects on Love, Career, Marriage, Finance-c

दूसरे भाव में सूर्य का प्रेम, करियर, विवाह पर प्रभाव :  दूसरे भाव में सूर्य कुंडली/कुंडली/वैदिक ज्योतिष पर जन्म कुंडली में : द्वितीय भाव में सूर्य पारिवारिक व्यवसाय और पारिवारिक मामलों में सफलता और बैंक बैलेंस या लिक्विड कैश में वृद्धि का प्रतिनिधित्व करता है। परिवार के समर्थन के कारण। दूसरे घर में शक्ति, अधिकार, सरकार, कृपा और सम्मान का एक शाही ग्रह व्यक्ति को सामान्य सफलता देता है, [Know More…]

तीसरे/ ३ भाव/ घर में सूर्य प्रेम, करियर, विवाह, वित्त/ सम्पत्ति – कुंडली – वैदिक ज्योतिष

तीसरे/ ३ भाव/ घर में सूर्य प्रेम, करियर, विवाह, वित्त/ सम्पत्ति - कुंडली - वैदिक ज्योतिष

तीसरे/ ३ भाव/ घर में सूर्य प्रेम, करियर, विवाह, वित्त/ सम्पत्ति – जन्म कुंडली – वैदिक ज्योतिष: 3rd घर में सूर्य एक देशी की कुंडली में सूर्य के लिए सबसे अच्छा घरों में से एक है। यह हर एक प्रयास में सफलता प्रदान करता है जो जातक अपनी इच्छा और ज्ञान से शुरू करता है या [Know More…]

शनि का दशम भाव/ 10 वीं घर/ में फल – शादी, कैरियर, प्रेण, पदोन्नति/ उन्नति

सूर्य दसवें/ १० भाव में स्थिति का फल - प्रेम, करियर उदय, पदोन्नति/ पदावनति, बिबाह

10 वीं घर में शनि/ शनि का दशम भाव में फल – शादी, कैरियर, पदोन्नति/ पदावनति, विकास, प्यार, पैसा, स्वास्थ्य, परिवार – आपकी कुंडली के दसवें घर में रहने का फल:- 10 वें घर में शनि व्यक्ति को शर्मीला, ईमानदार और अंतर्मुखी बनाता है।10 वें घर में शनि कई बार विदेश यात्रा और विदेशी निपटान [Know More…]

सूर्य ४/ चतुर्थ भाव में – प्रेम, करियर, विवाह, वित्त, शिक्षा, परिवार – वैदिक ज्योतिष कुंडली

सूर्य ४/ चतुर्थ भाव में - प्रेम, करियर, विवाह, वित्त, शिक्षा, परिवार - वैदिक ज्योतिष कुंडली

सूर्य ४/ चतुर्थ भाव में – प्रेम, करियर, विवाह, वित्त, शिक्षा, परिवार – वैदिक ज्योतिष कुंडली: जन्म कुंडली/ लग्न कुंडली में: चौथा घर घरेलू वातावरण, पारिवारिक जीवन और पारिवारिक सुख, संपत्ति, संपत्ति, वाहन आदि से संबंधित है। पर। किसी व्यक्ति की कुण्डली में चौथे भाव में स्थित सूर्य का अर्थ है, जातक आमतौर पर घरेलू [Know More…]

पंचम/ ५ बे भाव में सूर्य का फल – आपका प्रेम, करियर, विवाह, वित्त, शिक्षा, परिवार

पंचम/ ५ बे भाव में सूर्य का फल - आपका प्रेम, करियर, विवाह, वित्त, शिक्षा, परिवार

पंचम/ ५ बे भाव में सूर्य का फल – आपका प्रेम, करियर, विवाह, वित्त, शिक्षा, परिवार: जब किसी व्यक्ति की कुंडली के पांचवें भाव में सूर्य स्थित होता है तो यह जातक को धनवान बनाता है और कभी-कभी बहुत कम उम्र से ही काफी लोकप्रिय हो जाता है। कई बाल कलाकार और किशोर लड़के और [Know More…]

6 वें घर/ छठे भाव में सूर्य प्यार, करियर, स्वास्थ्य, वित्त, शिक्षा, परिवार, विवाह – ज्योतिष

6 वें घर/ छठे भाव में सूर्य प्यार, करियर, स्वास्थ्य, वित्त, शिक्षा, परिवार, विवाह

6 वें घर में सूर्य प्यार, करियर, स्वास्थ्य, वित्त, शिक्षा, परिवार, विवाह – वैदिक ज्योतिष: कुंडली के छठे घर में सूर्य ग्रह / कुंडली / जन्म कुंडली: एक व्यक्ति की कुंडली के छठे घर में एक शुभ सूर्य एक व्यक्ति की मूल सहनशक्ति और प्रतिरक्षा प्रदान करता है रोगों से लड़ता है और रोगों के [Know More…]

सूर्य ७ बे/ सप्तम भाव में – प्रेम, सेक्स, विवाह, करियर, वित्त, शिक्षा, स्वास्थ्यम , परिवार

सूर्य ७ बे/ सप्तम भाव में - प्रेम, सेक्स, विवाह, करियर, वित्त, शिक्षा, स्वास्थ्यम , परिवार

सूर्य सप्तम भाव में प्रेम, लिंग, करियर, स्वास्थ्य, वित्त, शिक्षा, परिवार, विवाह – वैदिक ज्योतिष:- यदि किसी व्यक्ति की जन्म कुंडली या कुंडली में सूर्य सातवें भाव में स्थित हो तो जातक धार्मिक और ईश्वर से डरने वाला व्यक्ति होगा। जातक 22 वर्ष की आयु के बाद समृद्ध होगा। जातक सरकार या सरकारी एजेंसियों के लिए काम कर [Know More…]

We use cookies in this site to offer you a better browsing experience. By browsing this website, you agree to our use of cookies & privacy policies.